गांवों में बेहतर और जल्द पुलिस सहायता देने के लिए डिप्टी सीएम ने रैपिड रूरल पुलिस रेस्पांस सिस्टम शुरू करवाया

0
253

NewZNew (Moga) : पंजाब के गांवों में बेहतर और जल्द पुलिस सहायता देने के लिए डिप्टी सीएम ने रैपिड रूरल पुलिस रेस्पांस सिस्टम शुरू करवाया है। इसके इसके तहत जब कोई पीड़ित 100 नंबर पर कॉल करेगा तो संबंधित क्षेत्र की गाड़ी 20 मिनट में मौके पर पहुंचेगी।

एसएसपी हरजीत सिंह पन्नू ने मिनी सचिवालय में तैयार नए आधुनिक पुलिस कंट्रोल रूम का उद्घाटन करते हुए दी। इसके तहत जिले में 8 बोलेरो और 30 आधुनिक संचार उपकरणों से लैस मोटरसाइकिल्स को प्रशिक्षित पुलिस कर्मियों समेत तैनात किया गया है। एसएसपी ने बताया कि इस नई स्कीम के तहत सभी प्रकार की आपातकालीन, आपदा, संकटमय स्थितियों में लोगों को सहायता मिलेगी। इन वाहनों को उन स्थानों पर तैनात किया जाएगा, जहां पर थाना या चौकी दूर है और रूरल इलाके के लोगों को पुलिस सहायता काफी देरी से पहुंचती है।

24घंटे मिलेगी सहायता 

एसएसपी ने कहा कि रैपिड रूरल पुलिस रेस्पांस सिस्टम के जरिए पीड़ित लोगों की ओर से 100 नंबर पर फोन करने के 20 मिनट के भीतर उनको पुलिस सहायता देना उनकी प्रतिबद्धता है। यह सुविधा रूरल लोगों को 24 घंटे तथा सातों दिन मिलेगी। उन्होंने कहा कि सभी कंट्रोल रूम एक महीने के भीतर कंप्यूटर एडिड डिस्पैच सीएडी सॉफ्टवेयर से सूचना का आदान प्रदान करेंगे। साथ ही 100 नंबर पर फोन करने वाले कालर की लोकेशन भी साथ ही कंप्यूटर पर जाएगी।

वुमन हेल्पलाइन और डिप्टी सीएम की ज्यादा शिकायतें 

उनकाकहना है कि आजकल लोग 100 नंबर का कम 181 वुमन हेल्पलाइन एवं डिप्टी सीएम की ईमेल आईडी पर शिकायतें ज्यादा हो रही है। इसका कारण है कि 181 हेल्पलाइन पर सीधे एसएसपी एसपी से संपर्क होता है। जबकि डिप्टी सीएम की मेल आईडी वाली शिकायत पर 24 घंटे में कार्रवाई करके जबाव देना होता है। लोग सरकारी विभागों के मुकाबले पुलिस विभाग में शिकायत करके तुरंत उसका हल चाहते हैं। इस मौके पर एसपी एच जसविंदर सिंह घारू, एसपी बीएस रंधावा, डीएसपी हेडक्वार्टर गोपाल चंद भंडारी मौजूद थे